+91-8528219666 / 1800-123-7880 [email protected]

Features and Qualities of VK Rain Irrigation System

2 Comments

MY KISAN DOST

दोस्तों भारत के अंदर जल संकट एक गंभीर मुद्दा है तो सभी को अपने स्तर पर जल का दुरूपयोग होने से बचाना चाहिए | दोस्तों इसी जल संकट को लेकर हमारे किसान भाई काफी ज्यादा जूझ रहे है कि जो भूमिगत जल है वो लगातार नीचे गिरता जा रहा है और उनके पास सिंचाई का पर्याप्त पानी नहीं रहता थोड़ा पानी रहता है तो एक या दो बार सिंचाई कर लेते है और अंतिम सिंचाई तक पानी नहीं मिल पाता है | और लगातार भूमिगत जल स्तर गिरता जा रहा है | ऐसे में  जरूरत है की हम सिचाई की आधुनिक तकनीक को अपनाये जिससे हम कम पानी में अधिक सिंचाई का कार्य कर सके इसके लिए सिंचाई की कई पद्धतियाँ है जिसमे ड्रिप सिंचाई स्प्रिंकलर सिंचाई और अभी जो स्मार्ट तरीका चल रहा है वो है रेन पाइप “rain pipe” स्मार्ट इरीगेशन “smart irrigation” |

रेन पाइप “rain pipe” के जरिये आप काफी कम पानी में अधिक सिंचाई कर सकते है तो आज मै इस रेन पाइप “rain pipe irrigation system “के सभी खूबियों से आपका परिचय करवाऊंगा और यह भी बताऊंगा की इसको उपयोग कैसे करना है|

रेन पाइप किट Rain pipe kit की मदद से रेन पाइप इनस्टॉल करना है बहुत ही आसान

रेन पाइप “rain pipe”  को लगाना बहुत ही आसान है | कोई भी किसान भाई इसे आसानी से लगा सकता है आप यह जो पाइप देख रहे HDPE  LAMINATED WOVEN LAY तकनीक से बना हुआ पाइप है| जिस कारण धुप बरसात ठण्ड को सहन करने की क्षमता बहुत अधिक है | सबसे पहले हम इसको बिछाकर अपनी मुख्य लाइन से जोड़ देते है | फिर पाइप में 15 -15  फ़ीट की  दूरी पर मार्किंग कर  लेते है | जहाँ से हम रेन पाइपों (rain pipe)  को मुख्य लाइन से जोड़ेंगे | तो इस तरीके से हमने    मुख्य लाइन में हर 15-15 की दूरी पर मार्क कर लिया है | अब जहाँ पर हमने मार्क किया है वहाँ पर हम छेद करेंगे ताकि यह जो बंद चालू करने वाला वॉल्व है इसे हम “rain pipe irrigation system “ मुख्य लाइन में जोड़ सके | पाइप में छेद करते समय ध्यान दे की रेन पाइप इरीगेशन सिस्टम “Rain pipe kit” के साथ  मिले मार्किंग टूल के सहायता से ही छेद करे |

जिससे की छेद छोटा अथवा बड़ा न हो | अब इसमें हम कम्पनी द्वारा दिया गए वॉल्व को फिट करेंगे | जो की इसे लगाना बड़ा आसान है वॉल्व को फिट करने के बाद हम रेन पाइप (rain pipe) स्मार्ट इरीगेशन (smart irrigation) को वॉल्व से जोड़ेंगे |

जोड़ते समय यह ध्यान रखना है की पाइप में लगा हुआ मार्का ऊपर की ओर रहे | जिससे की पाइप में बने छेद ऊपर की ओर रहे | वॉल्व में पाइप को  समय लगाते  वॉल्व में लगी चूड़ी को हम ऊपर कर लेते है और पाइप लगा लेने के बाद उसे नीचे ला कर कस लेते है जिससे की पाइप मजबूती के साथ  वॉल्व से जुड़ जाता है | अब हम रेन पाइप (rain pipe) स्मार्ट इरीगेशन “smart irrigation” को पूरे खेत में फैला लेंगे | जरूरत पड़ने पर पाइप की लम्बाई को बढाने के लिए कम्पनी द्वारा दिए गए जॉइनटर जो की  रेन पाइप किट “Rain pipe kit”  के साथ ही उपलब्ध होता है |

जिसके माध्यम से हम दो पाइपों को बड़ी आसानी से एक दूसरे से जोड़ सकते है  | फिर  हम पाइप की अंतिम सिरहाने  पर स्टॉपर का प्रयोग करते है| जो की कंपनी द्वारा किट “rain pipe kit” के साथ दिया जाता है|

वी.के पैक वेल का यह रेन पाइप (rain pipe) स्मार्ट इरीगेशन (smart irrigation) पांच लेयर से बना हुआ है सभी पाइपों को बिछा लेने के बाद हम मुख्य  पाइप लाइन के अंतिम सिरे का कुछ भाग काट लेते है और फिर अंतिम सिरे को दो से तीन बार मोड़ कर कटे हुए हिस्से को ऊपर की ओर लगा देते है | तो इस तरीके से पानी के बहाव को रोका जाता है  सम्पूर्ण प्रक्रिया पूरी हो जाने के बाद हम इसे चालू करते है|

दोस्तों आप देखंगे देखेंगे की आप के खेत में बहुत शानदार बारिश हो रही है बिल्कुल बारीक बारीक फुव्वारे बन रहे है और काफी अच्छे तरीके से  सिंचाई हो रही है | आप इस सिंचाई के माध्यम से तीन घण्टे की सिंचाई को मात्र आधे घंटे में पूरा कर सकते है | और कम पानी में अधिक क्षेत्र की सिंचाई कर पाएंगे | इस रेन पाइप (rain pipe) स्मार्ट इरीगेशन (smart irrigation) को मात्र २०  से २५ मिनट चलाने पर ६ इंच तक की गहराई की मिट्टी को गीला कर देती है|

दोस्तों आप जानते है कि किन – किन फसलों में हम इस सिंचाई प्रणाली का प्रयोग कर सकते है

रेन पाइप सिंचाई प्रणाली (rain pipe irrigation system )2 inch से 6 inch फसलों के लिए व भूमि के अन्दर उगने वाली सब्जियों के लिए बेहद लाभप्रद है

  • लहसुन
  • प्याज
  • मूंगफली
  • उड़द
  • गाजर
  • गोभी
  • फूलो की खेती में
  • अन्य सब्जियां एवं फसले

रेन पाइप (rain pipe) स्मार्ट इरीगेशन (smart irrigation) से सिंचाई करने पर पौधों में लगने वाले कीड़ो का असर भी कम हो जाता है | और  पाला पड़ने की स्थिति में अगर आप इसका प्रयोग करते है तो इसका भी असर कम हो जाता है  |

 

https://youtu.be/ZXWH_qwKVrA

 

 


2 thoughts on “Features and Qualities of VK Rain Irrigation System”

Leave a Reply to Saurbh Cancel reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *